Skip to main content

Posts

Showing posts with the label Chhattisgarh High Court

Without divorce How can a man can live with another woman is this not a crime now in Indian law

Without divorce How can a man can live with another woman is this not a crime now in Indian law ? तलाक के बिना एक पुरुष दूसरी महिला के साथ कैसे रह सकता है, क्या यह अब भारतीय कानून में अपराध नहीं है?                    

वैधानिक अवधि में हुए अवकाश भी धारा 167(2) के तहत डिफॉल्ट जमानत में गिने जाएंगे - छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट

  वैधानिक अवधि में हुए अवकाश भी धारा 167(2) के तहत डिफॉल्ट जमानत में गिने जाएंगे -  छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट ने यह कहते हुए जमानत याचिका स्वीकृत की, कि अगर 60 दिन के अंदर कोई भी वैधानिक अवकाश  होता है तो वह भी दंड प्रक्रिया संहिता,1973 की धारा 167(2) डिफॉल्ट जमानत में गिना जाएगा और मुकदमे निरुद्ध अभियुक्त की 60 दिन के अंदर चार्जशीट ना फाइल होने पर जमानत प्रदान की जाएगी।

Test your knowledge instantly! Let's get started, answer 2 simple questions